Home / Religious / रावण के जीवन के कुछ आश्चर्यजनक रहस्य

रावण के जीवन के कुछ आश्चर्यजनक रहस्य

रावण लंका का राजा था। उनके दस सिर होने के कारण उन्हें दशानन भी कहा जाता था। वह एक कुशल राजनीतिज्ञ, पराक्रमी, बहुत शक्तिशाली, कई शास्त्रों के जानकार, विद्वान विद्वान और महान विद्वान थे। रावण रामायण के प्रमुख पात्रों में से एक था। हम में से ज्यादातर लोग रावण के जीवन के कुछ रहस्यों से अनजान हैं।

पिता ऋषि और माता राक्षसी– रावण के पिता एक ऋषि थे जबकि उनकी माता एक राक्षसी थी। रावण के जन्म के समय रावण बहुत ही भयानक था। रावण के पिता ने जब पहली बार रावण को देखा तो वह उसे देखकर भयभीत हो गया।

थ में घोड़े नहीं थे गधे – वाल्मीकि रामायण में उल्लेख है कि रावण के रथ में गधे जोतते थे, घोड़े नहीं।यमलोक पर ही रावण को ब्रह्मा जी से वरदान मिला था। उसी वरदान के कारण रावण ने देवलोक पर विजय प्राप्त की और देवलोक पर विजय प्राप्त करने के बाद, रावण ने यमराज को हराकर यमलोक पर कब्जा कर लिया और उसकी सेना में नरक से पीड़ित आत्माओं में शामिल हो गया।

रावण के भाई थे कुबेर – देवताओं के कोषाध्यक्ष भगवान कुबेर रावण के सौतेले भाई थे। रावण ने स्वयं कुबेर को लंका से निकाल कर लंका पर अधिकार कर लिया था। रावण के साथ पुष्पक विमान भी कुबेर का ही था।

शनि महाराज को बंदी बनाया गया था – रावण ज्योतिष का एक बड़ा विद्वान था। वह अपने बेटे मेघनाद को अजय बनाना चाहते थे। इसलिए उन्होंने नवग्रहों को अपने पुत्र की कुंडली में ठीक से बैठने का आदेश दिया। लेकिन शनि महाराज ने यह नहीं माना। तो रावण ने उसे बंदी बना लिया।

अशोक वाटिका में थे दिव्य फूल– रावण के अशोक वाटिका में एक लाख से अधिक अशोक के वृक्षों के साथ-साथ दिव्य फूल और फलों के वृक्ष भी थे। यहां से हनुमान जी आम लेकर भारत आए।

रंभा को हुआ था श्राप- रावण किसी स्त्री से उसकी मर्जी के बिना संबंध नहीं बना सकता, अगर उसने ऐसा करने की कोशिश की तो उसका सिर चकनाचूर हो जाएगा और वह मर जाएगा। रावण को यह श्राप रंभा नाम की अप्सरा ने दिया था।

नाभि में था अमृत- रावण की नाभि में अमृत होने के कारण रावण का एक सिर काटकर दूसरा सिर फिर आ जाता था और वह जीवित हो जाता था।सभी देवता और दिग्पाल हाथ जोड़कर रावण के दरबार में खड़े होते थे। हनुमान जी जब लंका पहुंचे तो उन्हें रावण के बंधन से मुक्त कराया।

About Govind Dhami

Check Also

भारत के ऐसे चमत्कारी मंदिर जिनके रहस्य के आगे विज्ञान ने भी टेके अपने घुटने

भारत धर्म, भक्ति, अध्यात्म और साधना का देश है, जहां प्राचीन काल से ही मंदिरों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *